IPC Sec 4 in Hindi

IPC Section 4 (भारतीय दण्ड संहिता धारा 4) – राज्यक्षेत्रातीत/ अपर देशीय अपराधों पर संहिता का विस्तार।

विस्तार – इस संहिता के प्रावधान निम्नलिखित द्वारा किसी भी अपराध के लिए भी लागू होते हैं –
1. भारत के बाहर और परे किसी स्थान में भारत के किसी नागरिक द्वारा;
2. भारत में पंजीकृत किसी पोत या विमान, चाहे वह कहीं भी हो, पर किसी व्यक्ति द्वारा, किए गए अपराध पर भी लागू है।

स्पष्टीकरण–इस धारा में “अपराध” शब्द के अन्तर्गत भारत से बाहर किया गया ऐसा हर कार्य आता है, जो यदि भारत में किया जाता तो, इस संहिता के अधीन दण्डनीय होता।