Bihar state bar council registration kaise kare

157

जब कोई लॉ का छात्र फाइनल exam दे देता है तो सबसे पहले उसको बार कॉउन्सिल में एनरॉलमेंट कराना अनिवार्य होता है। Bihar state bar council registration कराने के बाद जिला बार कॉउन्सिल में मेंबर बना जाता है उसके बाद ही आप कोर्ट में वकालत कर सकते हैं।

एनरॉलमेंट फॉर्म कहा मिलता है?

बिहार बार कॉउन्सिल में एनरॉलमेंट सिर्फ offline form के माध्यम से कराया जा सकता है, अभी bihar state bar council enrollment online form उपलब्ध नहीं है।

फॉर्म लेने के लिए बार कॉउन्सिल भवन, पटना (Patna High Court Campus) के ऑफिस में चालान के माध्यम से फी जमा करके ले सकते हैं।

सबसे पहले आपको बैंक चालान लेना होगा फिर उसे भर के परीसर में स्थित बैंक में जमा करना होगा। चालान जमा करने के बाद जो receiving मिलेगा उसे लेकर बार कॉउन्सिल ऑफिस में जमा करके एनरॉलमेंट फॉर्म ले सकते हैं।

एनरॉलमेंट फॉर्म लेने के बाद उसे ठीक से भर लेने के बाद ओरिजिनल डुक्यूमेंट के साथ 2 प्रति सभी डॉक्यूमेंट के फ़ोटो कॉपी attach करके जमा करना होता है।

फॉर्म जमा करने के 30 दिन के अंदर मोबाइल पर एनरॉलमेंट नंबर के साथ एक मैसेज प्राप्त होगा जिसमें लिखा होगा कि welfare fund में ₹3000 जमा करके आप अपना एनरोलमेंट नंबर ,ID Proof कार्यालय से प्राप्त करें।

स्टेट बार कॉउन्सिल से रजिस्ट्रेशन होने के बाद आप जिस भी जिला में मेंबर बनना चाहते हैं वहाँ के जिला बार एसोसिएशन में फॉर्म fill करके मेंबर बन सकते हैं।

एनरॉलमेंट कब होता है?

LL.B या LL.B (Hons.) का फाइनल एग्जाम देने के बाद जब फाइनल रिजल्ट आ जाता है तो उसके बाद आप कभी भी एनरॉलमेंट करा सकते हैं।

यह भी पढ़ें : अधिवक्ता अधिनियम, 1961 Advocates Act, 1961

आवश्यक डॉक्यूमेंट क्या-क्या होता है?

बार कॉउन्सिल में एनरोलमेंट कराने के लिए निम्नलिखित डॉक्यूमेंट्स लगते हैं-
1. मैट्रिक मार्कशीट
2. मैट्रिक सर्टिफिकेट
3. इंटरमीडिएट मार्कशीट
4. इंटरमीडिएट सर्टिफिकेट
5. ग्रेजुएशन मार्कशीट
6. ग्रेजुएशन प्रोविशनल सर्टिफिकेट
7. LL.B मार्कशीट
8. LL.B प्रोविशनल सर्टिफिकेट
9. Character सर्टिफिकेट (लॉ कॉलेज का)
10. जाती प्रमाण पत्र (BC 2, SC, ST के लिय एनरॉलमेंट फी में छूट प्राप्त करने हेतु)
11. पासपोर्ट साइज फ़ोटो (एडवोकेट ड्रेस में)
12. सभी डॉक्यूमेंट के 2 प्रति फ़ोटो कॉपी

नोट : सभी dcuments original जमा करना होता है, एनरॉलमेन्ट हो जाने के बाद वापस दे दिया जाता है।
पासपोर्ट साइज फ़ोटो एडवोकेट ड्रेस में  होना अनिवार्य है। 

यह भी पढ़ें : भारत में एक वकील के अधिकार और कर्तव्य

Bihar bar council registration  fees

अलग-अलग स्टेट के bar council  द्वारा अलग-अलग फी निर्धारित किया गया है जिसे बैंक चालान द्वारा जमा करना होता है। बिहार स्टेट बार कॉउन्सिल में एनरॉलमेंट कराने का फी ₹18000 से ₹23000 रुपया निर्धारित किया गया है। (BC Schedule 2, SC, ST वर्ग से आने वाले अभ्यर्थियों को फी में छूट दी जाती है।)

स्टेट बार कॉउन्सिल से लाइसेंस मिलने के बाद District Bar Association में मेंबर अवश्य बनें जिससे की experience certificate मिल सके। Bar council registration कराने के बाद AIBE (All India Bar Exam) का exam दे सकते हैं।

Read Also : Rights and Duties of an Advocate in India

Previous articleCheque bounce case process in hindi
इस वेबसाइट का मुख्य उद्देश्य लोगों को कानून के बारे जानकारी देना, जागरूक करना तथा कानूनी न्याय दिलाने में मदद करने हेतु बनाया गया है। इस वेबसाइट पर भारतीय कानून, न्याय प्रणाली, शिक्षा से संबंधित सभी जानकारीयाँ प्रकाशित कि जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here